दुनिया की सबसे पहली हैकिंग – Hacking सबसे पहले कैसे हुई थी|

आज के समय मे तो आए दिन हैकिंग होती रहती है लेकिन क्या आपको पता है की दुनिया की सबसे पहली हैकिंग कीसने और कैसे की थी, तो चलिए जानते है की दुनिया की सबसे पहली हैकिंग के बरेमे इस आर्टिकल मे |

अब आप सोच रहे होंगे की हैकिंग तो कंप्युटर पे ही होती है, याने कंप्युटर के ही मदत से की होगी, लेकिन क्या हो अगर बिना किसी कंप्युटर के द्वारा पहली हैकिंग कैसे हुई होगी| जी हा दुनिया की सबसे पहले हैकिंग बिना कीसी कंप्युटर के द्वारा की गई थी|

यह बात है 1903 सन की जब इस हैकिंग को अंजाम दिया गया था, उस जमाने मे एल्क्ट्रो मैग्नेटिक वेव्स का इन्वेन्शन बहूत ज्यादा पोपुलर था, उस वक्त wires का इस्तेमाल करतेथे मैसेज को भेजने के लिए| उस वक्त एक scientist जिनका नाम Guglielmo Marconi था उन्होंने एक नई मशीन का आविष्कार किया था जिसका नाम वायरलेस टेलग्रैफ था|

 

sabse-pehli-hacking
credit: bbvaopenmind.com

 

अब यहा पर एक magician आता है जो की अपने मैजिक ट्रिक से सभी को हैरान कर देता था, अब वह उसी टेक्नॉलजी को काम मे लेताथा अपने मैजिक ट्रिक्स को दिखानेकेलिए| इस वजह से वह अपने इस सीक्रिट को लोगों को सामने नहीं दिखा सकता था| अब यह पर Guglielmo Marconi इस चीज का पेटेंट फाइल कर लिया, जब इस मशीन की टेस्टिंग थी जो की 300 मिल की दूरी से मैसेज भेजने का टेस्ट था, अब जब वह पर Guglielmo Marconi ने अपने मशीन से मैसेज को ट्रांसफर की तभी उस magician किसका नाम नेवेल मासकेलेंन, इसने उस मैसेज को इन्टर्सेप्ट कर दिया और उस मैसेज को चेंज कर के इन्सल्टिंग मैसेज को भेज दिया|

इस तरह से हुई थी दुनियाकि सबसे पहली हैकिंग|

आशा करते है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा इसे शेयर जरूर करे|

1 thought on “दुनिया की सबसे पहली हैकिंग – Hacking सबसे पहले कैसे हुई थी|”

Leave a Comment

%d bloggers like this: